शनिवार, सितंबर 29, 2018

पिता पुत्र संवाद - 2


पापा !
हां बेटा !!
पापा ठाकुर जी की कितनी रानियां थीं ?
बेटा सोलह हजार 108 रानियां थीं.
तो पापा वह सबसे प्यार कैसे करते थे ?
बेटा वह भगवान थे !!!
पापा ठाकुरजी की उम्र कितनी थी ?
बेटा तुम पिटोगे ऐसे सवाल करके !!!


( पिता—पुत्र संवाद वास्तविक बातचीत पर आधारित है।) 

कोई टिप्पणी नहीं:

खतरनाक ‘सफाया’

होशंगाबाद (मध्यप्रदेश) से राकेश कुमार मालवीय होशंगाबाद जिले के गांवों में इन दिनों हर किसी की जुबान पर ‘सफाया’ शब्द है। यह शब्द एक दवाई के...