शुक्रवार, जुलाई 22, 2011

नर्मदा : कल आज और कल

नर्मदा का पानी जमुना से कई गुना साफ और शुद्ध है. पर आगे रहेगा. बुधनी के पहाड़ की चोटी से जब  होशंगाबाद की ओर नजर डालते हैं तो खतरा साफ नजर आता है. हरे भरे पहाड़ों की ओर उड़ता धुँआ और लगातार खुलते कल कारखाने...आप खुद ही देख लें. आप खुद ही सोच लें अगले पांच दस सालों में यहाँ से कैसा द्रश्य नजर आने वाला है... 




कोई टिप्पणी नहीं: